युवा होंगे जागरूक तो जागेगा समाज: रसिक महाराज – Bhilangana Express

युवा होंगे जागरूक तो जागेगा समाज: रसिक महाराज

जिला पंचायत सदस्य संजीव चौहान ने जनता को प्रस्तुत किया रिपोर्ट कार्ड

RISHIKESH: खदरी खड़कमाफ – 28 के जिला पंचायत सदस्य संजीव चौहान ने जनता के समक्ष अपने 2 साल का रिपोर्ट कार्ड प्रस्तुत किया। जिसमें जनता को अपने प्रयासों से किए गए कार्यों से अवगत करवाया और जनता की समस्याएं सुनकर उनका यथासंभव शीघ्र से शीघ्र निवारण करने का भरोसा जताया।
इस अवसर पर विशेष अतिथि के रूप में पहुंचे नृसिंह वाटिका आश्रम रायवाला के परमाध्यक्ष नृसिंह पीठाधीश्वर स्वामी रसिक महाराज ने कहा कि राजनीति के बदलते दौर में युवाओं की भूमिका काफी महत्वपूर्ण है और उन्हें इसमें आगे आना होगा। घर पर बैठकर यह कहने से काम नहीं चलेगा कि राजनीति खराब हो चुकी है या राजनेता देश और समाज हित की बजाय निजी हितों को ज्यादा तरजीह दे रहे हैं।
राजनेता को ईमानदार होना आवश्यक है, लेकिन ऐसा नहीं होता है। वार्ड पार्षद से ही भ्रष्टाचार शुरू हो जाता है। गर्मी के समय टैंकर मंगवाते हैं तो पहले घर पानी भरवाने की सोच रखते हैं। यह व्यवस्था खत्म होनी चाहिए। यदि आपको लगता है कि राजनीति का स्तर गिरने लगा है तो उसके अपने आप ऊपर आने का इंतजार नहीं करना बल्कि खुद आगे आकर इसे ऊंचा उठाने का प्रयास करना होगा। इसके लिए लोगों को समझना होगा की कौन कैसा है।निस्वार्थ काम वाले को प्राथमिकता जो व्यक्ति समाजसेवा में जुड़ा हुआ हो उसको प्राथमिकता देनी चाहिए क्योंकि वह हर समस्या से वाकिफ है, शहर में भी कई समाजसेवी हैं, जो बिना किसी स्वार्थ के रात -दिन मेहनत करते हैं।राजनीति व्यापार हो गई है। इसमें अब स्वच्छ छवि वालों को आगे आना होगा। अच्छे और ईमानदार लोग आगे आएंगे तो आने वाले समय में समाज और राजनीति और बेहतर होगी। लोगों के बीच से स्वच्छ छवि वाले लोग आएंगे तो बदलाव जरूर होगा। अच्छे लोग तो राजनीति में आएंगे ही, अब बुरे लोग राजनीति में ज्यादा समय नहीं टिक सकेंगे।
पहले जमाने में सौ ईमानदारों में शायद एक ही चोर पहचान में आता था लेकिन आज तो सौ चोरों में से एक ईमानदार सामने आता है। ध्रुवीकरण, जातिवाद में आकण्ठ डूबे समाज को स्वच्छछवि वाले नेताओं की जरूरत है। धर्म का राजनीति में कोई लेना देना नहीं है। इसके विपरीत जिनको राम का स्मरण करना है, वे राजनीति में हैं। इस व्यवस्था में बदलाव होना चाहिए तभी गंदगी साफ होगी। सही आदमी आगे नहीं आने के कारण जनता को अशिक्षित प्रतिनिधि मिलता है। ईमानदार ही सच्चे जनसेवक
इस महाअभियान से चेंजमेकर लोग सामने आएंगे। सच्चाई व ईमानदारी से कार्य करने वाले ही सच्चे जनसेवक हैं।