3 साल से फरार ठग विकास नगर पुलिस ने दबोचा

ढाई हजार रुपए का था इनाम घोषित
फर्जीवाड़े से बदल दिए थे जमीन के दस्तावेज

Dehradun; आज से लगभग 4 वर्ष पूर्व के धोखाधड़ी के एक मामले में पुलिस ने फरार आरोपी को गिरफ्तार किया है। इस संबंध में वादी श्री सुरेन्द्र चन्द्र यादव पुत्र श्री राम सिंह यादव निवासी आशीर्वाद एन्कलेव बल्लूपुर रोड़ देहरादून द्वारा उसकी व उसके पार्टनर संजय घई की मैसर्स माउंटेन कन्सट्रक्शन की जो भूमि मौजा ढालीपुर में थी । उक्त फर्म की भूमि खाता संख्या 178, खसरा नं0 1-ग, 1-घ आदि की कुल भूमि लगभग 10 बीघा, मौजा ढालीपुर, परगना पछवादून तहसील विकासनगर देहरादून जो उप-निबन्धक कार्यालय विकासनगर में पंजीकृत थी।
उक्त भूमि का अभियुक्त सलमान पुत्र सुजात हुसैन निवासी 65-प्रेमनगर नजीबाबाद बिजनौर उ0प्र0 द्वारा उक्त फर्म के साथ फर्जी प्राधिकार पत्र के आधार पर उक्त भूमि के फर्जी व कूटरचित दस्तावेजों के आधार पर अभियुक्तगण सुधीर मलिक व मौ0 समीर कामयाब के नाम विक्रय अनुबन्ध पत्र सम्पादित कर दिया गया ।
जिस आधार पर कोतवाली विकासनगर पर मु0अ0सं0 346/2018 धारा 420, 467, 468, 471, 120b, 506 ipc का अभियोग अभियुक्तगण मौ0 सलमान, सुधीर मलिक, मौ0 शमीर कामयाब, शमशाद, महमूद हसन के विरुद्ध पंजीकृत किया गया । जिसमें पूर्व में अभियुक्तगण मौ0 सलमान, मौ0 समीर, शमशाद व मकसूद हसन को गिरफ्तार किया गया और अभियुक्त सुधीर मलिक की गिरफ्तारी के काफी प्रयास किये गये, परन्तु अभियुक्त वर्ष 2018 से लगातार फरार चल रहा था, जिस पर श्रीमान वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक देहरादून द्वारा 2500/- रुपये का ईनाम घोषित किया गया
प्रभारी निरीक्षक कोतवाली विकासनगर द्वारा ईनामी अपराधी अभियुक्त सुधीर मलिक की गिरफ्तारी हेतु थाना स्तर से (1) वरिष्ठ उप-निरीक्षक कुलवन्त सिंह व (2) उ0नि0 प्रमोद कुमार के नेतृत्व में अलग-2 दो टीमों का गठन किया गया । गठित पुलिस टीम द्वारा ईनामी अपराधी सुधीर मलिक के पैतृक निवास ग्राम लिसाड़ व चण्डीगढ़, पंजाब, हरियाणा, दिल्ली आदि स्थानों पर अभियुक्त की गिरफ्तारी हेतु आस-पास के लोगों व पुलिस के मुखबिरों को अभियुक्त की फोटो दिखाकर काफी तलाश किया गया परंतु अभि0 के संबंध में कोई जानकारी नहीं मिली।
दिनाँक 12-08-2021 को पुलिस टीम को अभियुक्त के गुडगाँव हरियाणा में छिपे होने की सूचना प्राप्त होने पर दोनो पुलिस टीम द्वारा संयुक्त रुप से कार्यवाही कर अभियुक्त सुधीर मलिक को समय करीब 22.16 बजे मेदान्ता हॉस्पिटल गेट के पास सैक्टर-38 गुडगांव हरियाणा से गिरफ्तार किया गया । अभियुक्त द्वारा बताया गया कि वह पुलिस की गिरफ्तारी के डर से लगभग 03 वर्ष से घर से फरार है और अलग अलग जगहों पर किराये पर व होटलों में रह रहा था । आज भी वह होटल में कमरा लेकर रह रहा था, परन्तु पुलिस टीम द्वारा पकड़ लिया गया ।

*पुलिस टीम का नामः-*
1- श्री बी0डी0 उनियाल, क्षेत्राधिकारी विकासनगर – पर्यवेक्षण अधिकारी
2- श्री प्रदीप बिष्ट, प्रभारी निरीक्षक, कोतवाली विकासनगर
3- श्री कुलवन्त सिंह, वरिष्ठ उप-निरीक्षक कोतवाली विकासनगर
4- श्री प्रमोद कुमार, चौकी प्रभारी हरबर्टपुर, विकासनगर
5- कानि0 त्रैपन सिंह, कोतवाली विकासनगर
6- कानि0 प्रवीण कुमार, कोतवाली विकासनगर
7- कानि0 जितेन्द्र कुमार, एस0ओ0जी0 देहात ।